राजस्थान की रोडवेज बसों में लगेगा नया सिस्टम, अब नहीं करना पड़ेगा यात्रियों का इंतजार, जानिए कैसे

Rajasthan Roadways Bus New System: राजस्थान की सरकार के द्वारा अब रोडवेज बसों में जीपीएस सिस्टम लगाया जाएगा। जिससे यात्री रोडवेज बस की लाइव लोकेशन एक ऐप की मदद से ट्रैक कर पाएंगे। इस सिस्टम को लगाने के बाद यात्री ऐप में बस की जानकारी हासिल कर पाएंगे कि बस कहां है और कितनी देरी के बाद बस स्टैंड पर पहुंचेगी।

राजस्थान सरकार के द्वारा निर्णय लिया गया है, कि अब रोडवेज बसों में जीपीएस ट्रैकिंग सिस्टम लगाया जाएगा। राजस्थान राज्य की रोडवेज बसों में सफर करने वाले यात्रियों को अब बसों की लाइव लोकेशन ट्रैक कर पाएंगे सिर्फ एक ऐप की मदद से। अब बस में यात्रा करने वाले लोगों को बस के लिए बस स्टैंड पर ज्यादा टाइम तक इंतजार नहीं करना पड़ेगा। अब उन्हें पता चल जाएगा कि बस कितने टाइम बाद बस स्टैंड पहुंचेगी और किस रूट से आएगी।

ओवरस्पीड, तेज ब्रेक और घुमाव पर नजर रखेंगे रोडवेज अधिकारी

रोडवेज बसों में जीपीएस सिस्टम लगने के बाद रोडवेज अधिकारियों की नजर बस की हर क्रिया पर रहेगी। बसों में लगाए जाने वाले जीपीएस में ऐसे फीचर्स होंगे जिससे बसों की ओवरस्पीड, तेज ब्रेक और तेज गति से घुमाव का पता चलेगा। रोडवेज अधिकारियों के द्वारा यह भी निगरानी की जाएगी की बस कितनी देर तक चालू हालत में थी। ऐसा करने से बसों के ईंधन की बचत की जा सकेगी और बस चालकों की खामियों का पता चलाया जा सकेगा।

2000 रोडवेज बसों में लगेगा जीपीएस सिस्टम

राजस्थान सरकार के द्वारा बताया गया है कि राजस्थान की 2000 रोडवेज बसों में जीपीएस सिस्टम में लगाया जाएगा। राजस्थान राज्य परिवहन निगम के द्वारा जीपीएस सिस्टम लगाने की प्रक्रिया को शुरू कर दिया गया है। इस प्रक्रिया के दौरान पहले चरण में 500 रोडवेज बसों में जीपीएस सिस्टम लगाया गया है। अप्रैल माह तक सभी रोडवेज बसों में जीपीएस सिस्टम लगाने की प्रक्रिया को पूरा कर दिया जाएगा।

जीपीएस सिस्टम लगाने का मुख्य कारण

राजस्थान सरकार का कहना है कि रोडवेज प्रशासन के द्वारा अभी तक बसों की निगरानी नहीं की जा रही है। बस में यात्रा करने वाली यात्रियों को बस की जानकारी नहीं होती है। कई बार यात्रियों को बस स्टैंड पर बस के लिए घंटों तक इंतजार करना पड़ता है। इसके साथ ही बस ड्राइवर बस को तेज गति के साथ चलते हैं, जिससे यात्रियों को परेशानी होती हैं। इन सभी परेशानियों के कारण कई बार यात्रियों ने शिकायतें भी की हैं।

इसे भी पढ़ें PM Surya Ghar Yojana: सरकार देगी 300 यूनिट तक फ्री बिजली, बस करना होगा ये काम

WhatsApp Group Join Now
Telegram Group Join Now

Leave a Comment